Pages

हम आपके सहयात्री हैं.

अयं निज: परो वेति गणना लघुचेतसाम्, उदारमनसानां तु वसुधैव कुटुंबकम्

Friday, October 2, 2009

सिर्फ एक परिवर्तन आया है - महात्मा गांधी



गांधी जी आज कहते हैं -

भारत के राजनीत में
सिर्फ एक परिवर्तन आया है
की अहिंसा का ''
सत्य के पहले छाया है !

7 comments:

Mithilesh dubey said...

बहुत खुब भाई जी एक दम सही बात कही आपने।

समयचक्र - महेंद्र मिश्र said...

बहुत बढ़िया पोस्ट प्रस्तुति
बापू जयंती की शुभकामना .

Babli said...

वाह बहुत बढ़िया लिखा है आपने! गाँधी जयंती की शुभकामनायें!

Parimal kumar jha said...

Best comments, Gandhi jayanti ki Chhutti Mubarak ho, Kyaonti aaj 'Ghandia Jayanti' sirf ek Holoiday rah gaya hai na ki National Festival.

Parimal

raj said...

भारत के राजनीत में
सिर्फ एक परिवर्तन आया है
की अहिंसा का 'अ'
सत्य के पहले छाया है !...thore me bahut badha sach kah diya aapne...

Dr. shyam gupta said...

बहुत बढिया नव-अगीत,व विचार तत्व. बधाई।

shyam1950 said...

sulbh ji aapki kavitaon par baat bad mein karoonga pahle meri site to theek kariye aap to internet ke malik hain... ye error on page, invalid chracter, vgarane bahut preshan kiya hua hai...kahin HTTP.. KAHIN 403 .. BAHUT PARESHAN HO GYA HOON. JEE KARTA HAI VAPAS GUMNAMI MEIN APNE KAGAZ KALAM KE PASS CHLA JAOON

लिंक विदइन

Related Posts with Thumbnails

कुछ और कड़ियाँ

Receive New Post alert in your Email (service by feedburner)


जिंदगी हसीं है -
"खाने के लिए ज्ञान पचाने के लिए विज्ञान, सोने के लिए फर्श पहनने के लिए आदर्श, जीने के लिए सपने चलने के लिए इरादे, हंसने के लिए दर्द लिखने के लिए यादें... न कोई शिकायत न कोई कमी है, एक शायर की जिंदगी यूँ ही हसीं है... "